Home Delhi सावन का पहला सोमवार आज, मंदिरों में लगी भक्तों की कतार

सावन का पहला सोमवार आज, मंदिरों में लगी भक्तों की कतार

201
0

असल न्यूज़: आज सावन का पहला सोमवार है। राजधानी के मंदिरोें में सवेरे से ही भक्तोें की भीड़ लगी हुई है। इस बीच राजधानी में कांवड़ियों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। फिलहाल हरियाणा और राजस्थान के कांवड़िया दिल्ली से गुजरने लगे हैं। उनकी सुविधा के लिए दिल्ली सरकार के अलावा अनेक समाजसेवी संस्थाएं और समाजसेवक जुट गए हैं। जगह-जगह शिविर भी लगाए गए हैं।

सावन माह शुरू होते ही इंद्र देव ने मौसम खुशनुमा कर दिया। कांवड़ियों की बम-बम, जय बम भोले जयघोष गूंजने लगे हैं। हरिद्वार से अभी राजस्थान और हरियाणा के भक्त ही आ रहे हैं। संभावना है कि अगले तीन-चार दिन में कांवड़ियों की संख्या बढ़ जाएगी। 26 जुलाई को कांवड़िया शिवलिंग पर जलाभिषेक करेंगे।

राजधानी में कांवड़ियों ने उत्तर प्रदेश व हरियाणा की सीमा स्थित अप्सरा बॉर्डर, आनंद विहार, देहली गेट गाजीपुर, सिंघु आदि बॉर्डर से प्रवेश करना शुरू किया है। रिज रोड से अपने साथियों के साथ गुजर रहे राजस्थान के सीकर जिले के कांवड़िया राहुल ढाका ने बताया कि उन्हें गांव तक जाने में काफी समय लगेगा। इस कारण वे सावन शुरू होने से कई दिन पहले ही गंगोत्री व हरिद्वार से कांवड़ लेकर चल दिए थे। राजस्थान के चूरू जिले के सतबीर ने बताया कि उन्हें अपने गांव पहुंचने में अभी सात-आठ दिन लगेंगे।

सावन का पहला सोमवार आज
सावन माह के पहले सोमवार के मद्देनजर तमाम शिवालयों में तैयारी पूरी हो गई हैं। सभी मंदिरों में व्यवस्था बनाए रखने और शिव भक्तों की सुविधा के लिए लाइनों की व्यवस्था की गई है। मंदिरों में पूरा दिन श्रद्धालुओं का तांता लगने की उम्मीद है।

चांदनी चौक स्थित गौरी शंकर मंदिर, मादीपुर स्थित प्राचीन शिव मंदिर, जयपुर हाइवे स्थित शिव मूर्ति, कालकाजी मंदिर, छतरपुर मंदिर, बिडला मंदिर, कनाट प्लेस स्थित हनुमान मंदिर, आसिफ अली रोड स्थित श्रीराम हनुमान वाटिका मंदिर, झंडेवाला समेत सभी प्रमुख मंदिरों के अलावा तमाम शहरों, कॉलोनियों, गांवों आदि स्थित छोटे-बड़े शिव मंदिरों में श्रद्धालु पूजा-अर्चना और शिवलिंग पर जलाभिषेक करेंगे।

गौरी शंकर मंदिर संचालन समिति के सदस्य राहुल शर्मा ने बताया कि सावन माह के पहले सोमवार को श्रद्धालुओं का पूरा दिन तांता लगाने की संभावना है। उनकी सुविधा के लिए दो लाइनों की व्यवस्था की गई है। पूजा-अर्चना करने के लिए आधा दर्जन पंडित उपलब्ध कराए गए हैं। मादीपुर स्थित शिव मंदिर संचालन समिति के सदस्य सुनील शर्मा ने बताया कि बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद के मद्देनजर लाइनों की व्यवस्था की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here