Home bijanes आजादी के अमृत महोत्सव के चलते सैंट्रल बैंक आफ इंडिया ने की...

आजादी के अमृत महोत्सव के चलते सैंट्रल बैंक आफ इंडिया ने की सस्ती ब्याज दरो पर ऋण देने की घोषणा

85
0

मेगा आउटरिच क्रेडिट कैंप के जरिए सैकड़ों उद्योगपतियों से हुए रुबरु।

नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 75 वें स्वतंत्रता दिवस को आजादी के अमृत महोत्सव के रुप में मनाए जाने को लेकर सैंट्रल बैंक आफ इंडिया ने सैकड़ों उद्योगपतियों के साथ इंडिया टूरिस्ट रिसोर्ट (एसपी,एचआर) में मेगा आउटरिच क्रेडिट कैंप,सेंट क्रांति अभियान का भव्य आयोजन किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जे.एस.साहनी (एफजीएम),डा.हिमांशु गुप्ता (रिजनल हैड, दिल्ली सैंट्रल) मंजीत सिंह (एचएसआईडीपी,स्टेट मैनेजर) उपस्थित थे।मंच का संचालन अंजनी राही व व्यवस्था धीरज बिष्ट ने संभाली।इस अवसर पर मुख्य अतिथि जे .एस.साहनी ने कहा,कि इस आयोजन के माध्यम से हम समाज के उन सभी वर्गों से जुडना चाहते हैं, जिन्हें अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए बैंक से ऋण लेने की जरूरत होती है।

उन्होंने कहा,कि हम सस्ती ब्याज दरो पर ऋण देकर उनके सपनों को साकार करना चाहते हैं। रिजनल हैड दिल्ली सैंट्रल डा.हिमांशु गुप्ता ने कहा,कि कार्यक्रम में आए सैकड़ों उद्योगपतियों इस बात को तय करे,कि उनका अपना व्यवसाय बढ़ाने,मकान पर लोन लेने बच्चो की शिक्षा पर लोन लेने या मनचाहा वाहन खरीदने के अलावा अन्य जरुरतों को पूरा करने के लिए जितना भी ऋण चाहिए सैंट्रल बैंक आफ इंडिया उन्हें सस्ती ब्याज दरों पर ऋण देने को तैयार हैं। डा.गुप्ता ने कहा,कि हाल ही में दिल्ली एनसीआर के राई और खरखौदा में भी मारुति प्लांट लगाने की योजना चल रही है,

जिसमें अभी आप उद्योगपतियों ने उसको लेकर प्रश्न किया है,तो मैं बताना चाहता हूं,कि उन्हें भी अपने कारोबार को करने के लिए किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं होगी। कार्यक्रम में आए प्रबुद्ध उद्योगपतियों में से मुकेश गोयल,प्रीतम अरोड़ा, बजरंग गर्ग, महेंद्र गोयल आदि ने ऋण लेने के लिए आ रही दिक्कतो के विषय में चर्चा की,तो अधिकारियों ने स्पष्ट किया,कि अब बैंक में ग्राहकों को और ऋण लेने वालो को किसी भी प्रकार हमकी परेशानी का सामना नही करना पडेगा।अंत में बैंक अधिकारियों की ओर से कैंप में आए लोगों को ऋण वितरण पत्र व उपहार देकर सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here