Home Crime पढ़ाई से बचने के लिए दसवीं का छात्र बना जल्लाद, 13 साल...

पढ़ाई से बचने के लिए दसवीं का छात्र बना जल्लाद, 13 साल के दोस्त को दी दर्दनाक मौत

60
0

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहा पर एक दसवीं के छात्र ने पढ़ाई से बचने के लिए ऐसी घटना को अंजाम दिया है, जिसको पढ़ने के बाद आपकी रूह कांप जाएगी. दरअसल इस छात्र ने पहले एक 13 वर्षीय नाबालिग से दोस्ती की. उसको रोज साथ में घूमाने के लिए ले जाता था. इसके बाद मौका पाकर सोमवार को उसकी हत्या कर दी. वहीं, पुलिस ने हत्यारोपी छात्र को गिरफ्तार कर लिया है.

क्या है मामला?
गाजियाबाद के मसूरी थाना क्षेत्र में दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे के निचले हिस्से में 13 साल के मासूम बच्चे का शव एक पत्थर के स्लैब पर शव मिला था. बच्चे के मुंह से झाग निकल रहा था, जिसके बाद वहां से गुजर रहे लोगों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी जिसके बाद बच्चे को पास के स्वास्थ्य केंद्र में ले जाया गया. जहां डॉक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया.

दोस्त ही निकला हत्यारा
बच्चे की पहचान पास के आकाश नगर निवासी नीरज पुत्र विनोद के रूप में हुई है. म्रतक बच्चा कक्षा 8 का छात्र था. पुलिस ने इस मामले में 16 साल के नाबालिग को हिरासत में लिया है जो कक्षा 10 का छात्र हैं. मृतक छात्र नीरज के परिवार ने बताया कि आज दोपहर करीब 2 बजे नीरज को हत्यारोपी किशोर अपने साथ लेकर घूमने के बहाने लेकर गया. हत्यारोपी छात्र ने कुछ दिन पहले ही मृतक बच्चे से दोस्ती की थी. बीते कुछ दिनों से दोनों का मिलना जुलना था. सोमवार को दोपहर भी हत्यारोपी छात्र उनके बेटे को घर से लेकर गया था और आज उसका शव मेरठ दिल्ली एक्सप्रेस वे के करीब पड़ा मिला था. बच्चे का गला दबाया गया था और बच्चे के गले पर कट का निशान था.

क्या कहना है पुलिस का?
वहीं, इस पूरे मामले में गाजियाबाद एसपी देहात इराज राजा ने बताया कि सोमवार की शाम एक 13 बर्षीय बच्चे का शव एक्सप्रेस-वे की साइड में पड़ा पुलिस ने बरामद किया था. नाबालिग 16 बर्षीय ने 13 बर्षीय बच्चे के बीच कोई बात हुई जिसको लेकर उसने 13 बर्षीय बच्चे की गला दबाकर हत्या कर दी. हत्यारोपी को हिरासत में ले लिया गया है. उससे पुलिस पूछताछ कर रही हैं. 13 बर्षीय बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है.

पढ़ाई से बचने के लिए कर दी हत्या
हत्यारोपी छात्र ने कुछ दिन पहले ही मृतक छात्र से दोस्ती की थी और हत्यारोपी किशोर मृतक छात्र को बीते 3- 4 दिनों से हाइवे के किनारे साथ घूमने के बहाने ले जाता था. पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार हत्यारोपी कक्षा 10 का छात्र था और पढ़ाई से बचना चाहता था. वह हत्या कर जेल जाना चाहता था, ताकि उसे पढ़ाई न करनी पड़े. इसलिए आशंका है कि हत्यारोपी ने प्लानिंग के तहत मृतक छात्र से दोस्ती की

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here