Home Crime गहरी नींद से जगाने पर नौकर को मार डाला, जंगल में फेंकी...

गहरी नींद से जगाने पर नौकर को मार डाला, जंगल में फेंकी लाश

40
0

सुबह के समय गहरी नीद में सो रहे डेयरी संचालक को जगाना नौकर को अपनी जान देकर चुकाना पड़ा। डेयरी संचालक ने फावड़े के डंडे वार कर नौकर को मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद बाइक पर शव रखकर गांव डिडौली के जंगल में फेंक दिया। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

मामला गाजियाबाद के मुरादनगर का है। थाना प्रभारी सतीश कुमार ने बताया कि गत 12 अगस्त को गांव डिडौली के जंगल में ज्वार के खेत में एक युवक का शव मिला। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर शिनाख्त के प्रयास शुरू कर दिए। थानाप्रभारी ने बताया कि शव की शिनाख्त गांव नेकपुर निवासी तेजवीर सिंह उर्फ जोनी पुत्र तेजपाल सिंह के रूप में हुई। परिजनों ने बताया कि एक युवक अपनी रिश्तेदारी में तेजवीर जिला बागपत के गांव चमरावल ले गया था, जहां तेजवीर सिंह को डेयरी पर काम दिला दिया गया है। 18 सितंबर को परिजनों ने गांव चमरावल निवासी गौरव त्यागी के खिलाफ हत्या और हरिजन एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई गई। थानाप्रभारी सतीश कुमार ने बताया कि नामजद रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एक टीम का गठन किया। पुलिस ने आरोपी गौरव त्यागी को गिरफ्तार कर लिया।

नींद ने जगाने पर आया था गुस्सा
पुलिस पूछताछ में गौरव त्यागी ने बताया कि गत चार अगस्त की रात को मैने डेयरी परिसर में ही दोस्तों के साथ अत्याधिक शराब पी थी। अधिक नशा होने के कारण सो गया था। पांच अगस्त की सुबह तीन बजे तेजवीर ने पशुओं को चारा करने व दूध निकालने के लिए उठाया। जल्द उठाने पर मुझे अचानक गुस्सा आ गया और पास पड़े फावड़े का डंडा तेजवीर के सिर में मार दिया।

बागपत से गिरफ्तार हुआ आरोपी
गाजियाबाद के सीओ सदर आकाश पटेल ने बताया कि तेजवीर हत्याकांड का खुलासा कर दिया गया है। इस मामले में पुलिस ने गौरव त्यागी और प्रदीप उर्फ बिट्टू निवासी गांव चमरावल जिला बागपत को गिरफ्तार किया गया है। उनकी निशानदेही पर फावड़े का डंडा और बाइक बरामद की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here