Home Blog

गाजियाबाद: गन प्वाइंट पर लिया… बांधे हाथ-पैर, फिर बदमाश बोला- पहचान लेंगे दोनों, बांधो आंखों पर पट्टी

0

गाजियाबाद के विजयनगर औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक फैक्टरी में बदमाशों ने करीब साढ़े तीन घंटे तक डाका डाला। यहां गुप्ता मेटल वर्क्स के नाम की फैक्टरी में 10 हथियारबंद बदमाशों ने गुरुवार रात दो बजे धावा बोला। बदमाश गार्ड व सहकर्मी को बंधक बनाकर अपने साथ लाए ट्रक में 45 लाख का कॉपर और एक टन लेड लूटकर भाग गए। बदमाशों के जाने के बाद गार्ड हरिपाल और समतादास ने खुद को किसी प्रकार बंधनमुक्त कर मामले की जानकारी फैक्टरी के मालिक आईपी एक्सटेंशन दिल्ली निवासी अनूप गुप्ता को दी। उन्होंने पुलिस को मामले की सूचना दी।

अनूप गुप्ता ने बताया कि फैक्टरी में हरिपाल और समतादास थे जो खाट पर सो रहे थे। रात करीब दो बजे बदमाश दीवार फांदकर फैक्टरी में घुसे और हरिपाल और समतादास पर हथियार तानकर बांध दिया। बदमाशों ने दोनों के साथ मारपीट की। बदमाशों ने गार्ड हरिपाल और समतादास के हाथ-पैर कपड़ों से बांध दिए और आंखों पर पट्टी बांध दी। इसके बाद फैक्टरी के गेट का अंदर से ताला तोड़कर अपना ट्रक अंदर घुसा लिया और कॉपर व लेड ट्रक में भर लिया। समतादास ने फैक्टरी के बाहर आकर एक चालक और उसके ट्रांसपोर्टर की मदद से अनूप गुप्ता को सुबह साढ़े पांच बजे सूचना दी।

एसएसपी से मदद मांगने पर पहुंची पुलिस
अनूप गुप्ता ने बताया कि सूचना मिलने पर वह फैक्टरी पहुंचे। वहां से पुलिस को सूचना देने के लिए डायल 112 मिलाया लेकिन नहीं लगा। इसके बाद एसएसपी आवास पर कॉल कर इसकी सूचना दी। तब जाकर मौके पर पुलिस पहुंची।

बदमाशों ने गार्ड के कमरे को भी खंगाला
बदमाशों ने गार्ड के कमरे में रखे संदूक का ताला भी तोड़ा। अनूप गुप्ता ने बताया कि नकदी व अन्य सामान मिलने की उम्मीद में गार्ड के कमरे में रखे उसके संदूक का ताला तोड़ा होगा। बदमाशों ने गार्ड का सभी सामान इधर-उधर फेंक दिया। अनूप ने बताया कि फैक्टरी में करीब 12 दिनों से मरम्मत का काम चल रहा था। इसके लिए फैक्टरी में चार-पांच मिस्त्री लगे हैं जो मशीन व अन्य औजारों की मरम्मत कर रहे हैं।

बदमाशों ने कहा- पहचान लेंगे आंखों पर पट्टी बांधों
बदमाशों ने गार्ड हरिपाल और समतादास को बांधने के बाद फैक्टरी में बने दो कमरे के ताले तोड़े और माल ट्रक में भर लिया। इसी बीच एक बदमाश ने अपने साथियों से कहा कि दोनों देख रहे हैं पहचान लेंगे, दोनों की आंखों पर पट्टी बांधों। बदमाशों ने अनूप के केबिन की चाबी भी गार्ड से ली थी लेकिन उसका ताला नहीं खोला। बदमाशों को पता था कि ताला खोलने से कोई फायदा नहीं होगा। इससे साफ है कि किसी करीबी ने ही वारदात को अंजाम दिया है। ऐसे में पुलिस ने फैक्टरी में काम करने वाले सभी कामगारों की सूची और माल ले जाने वाले चालकों की सूची फैक्टरी मालिक अनूप से ली है।

घटना के खुलासे को बनाई गईं पांच टीमें
मामले को लेकर एसएसपी मुनिराज ने बताया कि घटना के खुलासे के लिए पांच टीमें बनाई गई हैं। घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। कई अहम सुराग मिले हैं। जल्द ही घटना का खुलासा किया जाएगा। गार्ड, सहकर्मी और फैक्टरी में काम कर रहे अन्य मजदूर व स्टाफ से पूछताछ की जा रही है।

Delhi: शराब घोटाले में सिसोदिया का नाम चार्जशीट में नहीं, केजरीवाल ने विपक्ष को घेरा

0

असल न्यूज़। दिल्ली शराब घोटाले में सीबीआई ने सात आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी है. इस चार्जशीट में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का नाम नहीं है. इसी के बाद से AAP बीजेपी पर हमलावर हो गई है. सीएम अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा- सीबीआई ने शराब घोटाले में चार्जशीट फाइल की है. यानी सीबीआई ने मनीष सिसोदिया को क्लिन चिट दे दी है. सीबीआई और ईडी के 800 अधिकारी इस केस पर काम कर रहे हैं. रात-दिन 24 घंटे काम कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि 500 से ज्यादा जगह रेड मारी. उनकी दीवारी तोड़कर देखा गया कि कहीं कैश तो नहीं. गद्दे फाड़कर देखे गए. मनीष का बैंक लॉकर देखा गया. रिश्तेदार और गांव की जांच की. मगर सबूत नहीं मिला. अभी कह रहे हैं कि जांच जारी है. एडिशनल चार्जशीट आ सकती है.

केजरीवाल ने आरोप लगाते हुए कहा- हमारी जांच प्रधानमंत्री तब तक कराएंगे, जब तक जिंदा हैं. जिंदगीभर जांच जारी है. आज तक जिनती भी जांच की, उसमें 25 पैसे की भी गड़बड़ी नहीं मिली. प्रधानमंत्री खुद इस केस को मॉनिटरिंग कर रहे हैं. वो खुद सीबीआई और ईडी डायरेक्टर से मिल रहे थे. वो चाहते थे कि मनीष सिसोदिया को गिरफ्तार करें. सारी फाइल की जांच कर ली, ये कुछ नहीं निकाल पाए.

उन्होंने कहा कि हाथ जोड़कर प्रधानमंत्री से अपील है. वो कहते हैं कि 18 घंटे काम करते हैं. वो यही सोचते हैं कि किस तरह केजरीवाल को काम करने से रोकूं. 18 में से 2 घंटे भी देश के लिए काम कर लें, तो देश में महंगाई कम होगी.

आप ने LG को हटाने की मांग की
इससे पहले मनीष सिसोदिया ने कहा था कि बीजेपी एक मनोहर कहानी लेकर आई थी कि दिल्ली में शराब घोटाला हुआ है. बीजेपी ने करोड़ों के घोटाले सुनाए थे. मेरे घर पर सीबीआई की रेड करवाई गई थी और छापे डाले गए थे. मेरे बैंक के लॉकर की तलाशी की जा चुकी है. मैंने उस समय भी कहा था कि दिल्ली में कोई शराब घोटाला नहीं हुआ है.

सिसोदिया ने कहा कि बीजेपी ने शराब घोटाले के नाम पर परेशान और बदनाम किया है. सीबीआई की चार्जशीट से साफ है कि कोई शराब घोटाला हुआ ही नहीं. सिसोदिया ने दिल्ली के एलजी को हटाने की मांग करते हुए कहा है कि क्या अब दिल्ली के एलजी और सीएस के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी? क्या एलजी को हटाना नहीं चाहिए क्योंकि सीबीआई ने मुझे क्लीन चिट दे दी है.

पीएम को माफी मांगनी चाहिए
सिसोदिया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विरोधी दलों के खिलाफ साजिश रचने के बारे में सोचते रहते हैं. प्रधानमंत्री मोदी को माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने का कि एलजी को अपने पद से इस्तीफा देना चाहए और चीफ सेक्रेटरी के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए, जिन्होंने बीजेपी की साजिश का हिस्सा बनकर साजिश की. इसी तरह सत्येंद्र जैन भी पाक साफ बाहर निकलेंगे.

800 अफसरों को चार महीने में कुछ नहीं मिला
आबकारी नीति मामले में दाखिल की गई सीबीआई की चार्जशीट में मनीष सिसोदिया का नाम नहीं होने पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि चार्जशीट में मनीष का नाम नहीं है. उन्होंने कहा कि यह पूरी केस फर्जी है. रेड में कुछ नहीं मिला है. 800 अफसरों को चार महीने जांच में कुछ भी नहीं मिला. मनीष ने शिक्षा क्रांति से देश के करोड़ों गरीब बच्चों को अच्छे भविष्य़ की उम्मीद दी है. केजरीवाल ने कहा कि मुझे दुख है कि ऐसे शख्स को झूठे केस में फंसाकर बदनाम करने की साजिश रची गई.

पॉलीग्राफ टेस्ट आज हो सकता है पूरा, आफताब ने शुक्रवार को किया था चौंकाने वाला खुलासा

0

श्रद्धा वालकर हत्याकांड में अभी तक पुलिस को कोई ठोस सबूत हाथ नहीं लगा है। श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब का पॉलीग्राफिक टेस्ट आज पूरा हो सकता है।

श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट शुक्रवार को किया गया। इस दौरान उससे कई सवाल पूछे गए। आफताब सभी प्रश्नों का जवाब दे रहा है। उसने बताया कि वह श्रद्धा से नफरत करने लगा था। उसने दृश्यम फिल्म देखकर हत्या करने की योजना बनाई थी। आफताब से आज शनिवार को भी पूछताछ की जाएगी।

दिल्ली: संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार का एलान, 128 कलाकारों को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू करेंगी सम्मानित

0

संगीत नाटक अकादमी ने शुक्रवार को 10 अकादमी फेलो और 128 कलाकारों की सूची की घोषणा की, जिन्हें 2019, 2020 और 2021 के लिए प्रतिष्ठित अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। अकादमी फेलो के रूप में राष्ट्रीय संगीत, नृत्य और नाटक अकादमी परफॉर्मिंग आर्ट्स के क्षेत्र में प्रतिष्ठित हस्तियों का चुनाव करती है।

फेलो के रूप में भरतनाट्यम नृत्यांगना सरोजा वैद्यनाथन, कथकली व्याख्याता सदनम कृष्णन कुट्टी, मणिपुरी नृत्यांगना दर्शना झावेरी, शास्त्रीय गायक छन्नू लाल मिश्र, कर्नाटक शहनाई वादक एकेसी नटराजन, तबला वादक स्वप्न चौधरी, शास्त्रीय गायिका मालिनी राजुरकर, कर्नाटक और हिंदुस्तानी संगीतकार टीवी गोपालकृष्णन, लोक गायिका तीजन बाई, और संगीत विज्ञानी भरत गुप्त का चयन किया गया है। साथ ही, संगीत नाटक अकादमी की सामान्य परिषद ने 2019, 2020 और 2021 अकादमी पुरस्कार के लिए संगीत, नृत्य, रंगमंच, पारंपरिक/लोक/जनजातीय संगीत/नृत्य/रंगमंच, कठपुतली और प्रदर्शन कला में समग्र योगदान/छात्रवृत्ति के क्षेत्र से 128 कलाकारों का चयन किया।

128 कलाकारों में तीन संयुक्त पुरस्कार शामिल हैं। अकादमी ने एक बयान में कहा कि अकादमी की फेलोशिप सबसे प्रतिष्ठित और दुर्लभ सम्मान है। यह किसी भी समय 40 तक सीमित है। 10 फेलो के चुनाव के साथ अब संगीत नाटक अकादमी में इनकी संख्या 39 हो गई है। अकादमी फेलो के सम्मान में तीन लाख की पुरस्कार राशि दी जाती है, जबकि अकादमी पुरस्कार में एक ताम्रपत्र और अंगवस्त्रम के अलावा एक लाख रुपये की नकद राशि दी जाती है। एक विशेष अलंकरण समारोह में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू कलाकारों को सम्मानित करेंगी।

महिला के साथ पुलिसकर्मी ने की छेड़छाड़, आरोपी ने एसएचओ समेत अन्य स्टाफ से भी की अभद्रता, रिपोर्ट दर्ज

0

दिल्ली के थाना महिंद्रा पार्क थाने में पुलिसकर्मी द्वारा महिला से छेड़छाड़ का मामला सामने आया है। आरोप है कि आरोपी ने थाने के एसएचओ व अन्य स्टाफ से भी दुर्व्यवहार किया। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

जानकारी के अनुसार, थाने को बीते 18 नवंबर को दो युवकों द्वारा छेड़छाड़ के संबंध में पीसीआर कॉल मिली थी। शिकायकर्ता की उम्र 22 साल बताई जा रही है। आरोप है कि आरोपी अनिल ने जब पुलिस कर्मचारियों द्वारा शिकायतकर्ता से पूछताछ की जा रही थी तब उसके साथ दुर्व्यवहार करना शुरू कर दिया और पूछताछ में बाधा डाली। अनिल की तैनाती आजादपुर मेट्रो स्टेशन पर है।

कांग्रेस नेता आसिफ खान गिरफ्तार, दिल्ली पुलिस के एसआई से की थी अभद्रता

0

एमसीडी चुनाव को लेकर भाजपा और आप में कड़ी टक्कर चल रही है। दोनों पार्टियां एक-दूसरे पर आरोप लगा रही हैं। दिल्ली में एमसीडी चुनाव को लेकर चार दिसंबर को वोटिंग होगी जबकि सात दिसंबर को मतगणना होगी।

इस बीच मीडिया में दिल्ली सरकार के मंत्री और आम आदमी पार्टी नेता सत्येंद्र जैन का एक और वीडियो वायरल हुआ है। वीडियो में निलंबित चल रहे तिहाड़ जेल अधीक्षक उनसे मिलने पहुंचे हैं। इस वीडियो के बाद भाजपा आम आदमी पार्टी पर हमलावर हो गई है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार करने के साथ दो अन्य आरोपी मिन्हाज और साबिर को हिरासत में ले लिया गया है। उनकी भूमिका की जांच की जा रही है। पुलिस अधिकारियों से दुर्व्यवहार करने वाले अन्य आरोपियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

डीसीपी ईशा पांडे ने कहा कि पुलिस टीम पेट्रोलिंग कर रही थी तो उन्हें तय्यब मस्जिद के पास 20-30 लोगों की भीड़ लगी देखी। पास जाकर देखा तो वहां एमसीडी में कांग्रेस की पार्षद उम्मीदवार अरीबा खआन के पिता और पूर्व विधायक आसिफ मोहम्मद खान अपने समर्थकों के साथ थे और माइक से उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि एसआई अक्षय ने जब आसिफ को चुनाव आयोग की अनुमति के बारे में पूछा तो आसिफ आक्रामक हो गए और उनके साथ अभद्रता करने लगे। आसिफ ने उन्हें गालियां दीं और उनके साथ धक्का-मुक्की की गई। इस संबंध में आसिफ ने शिकायत दी थी, जिसके आधार पर एफआईआर दर्ज की गई है।

शाहीनबाग क्षेत्र में शुक्रवार को दिल्ली पुलिस के एक एसआई से अभद्रता करने और उसे धमकी देने के मामले में पूर्व विधायक और कांग्रेस नेता आसिफ खान को गिरफ्तार कर लिया गया है। एसआई की तहरीर पर शाहीन बाग थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

ऑस्ट्रेलिया में Beach पर हुआ था 24 वर्षीय युवती तोया का कत्ल, 4 साल बाद 5 करोड़ का इनामी राजविंदर गिरफ्तार

0

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। साल 2018 में ऑस्ट्रेलिया में युवती की हत्या के मामले में 1 मिलियन ऑस्ट्रेलियाई डॉलर के इनामी कातिल राजविंदर सिंह को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मूल रूप से पंजाब के बुट्टर कलान के रहने वाले 38 वर्षीय राजविंदर सिंह पर 2018 में 24 वर्षीय युवती तोया कार्डिंग्ले की हत्या का आरोप है।

बता दें कि राजविंदर सिंह ऑस्ट्रेलिया के क्वीन्सलैंड में अपने परिवार के साथ रहता था। अक्टूबर 2018 में क्वींसलैंड बीच पर तोया नाम की युवती का शव मिला था। क्वींसलैंड पुलिस के मुताबिक, तोया कार्डिंग्ले एक फार्मेसी वर्कर थी, जो क्वींसलैंड के वांगेटी बीच पर अपने कुत्ते को टहला रही थी। इसी दौरान उसकी हत्या कर दी गई। राजविंदर सिंह पर युवती की हत्या का आरोप है।

ऑस्ट्रेलिया में राजविंदर पर 5 करोड़ का इनाम
तोया के मर्डर के 2 दिन बाद राजविंदर भारत भाग आया और तब से यहीं छिपा था। ऑस्ट्रेलिया की पुलिस को उसकी लंबे वक्त से तलाश थी। राजविंदर सिंह के बारे में सूचना देने पर ऑस्ट्रेलियाई प्रशासन ने एक मिलियन ऑस्ट्रेलियाई डॉलर यानी करीब 5 करोड़ इनाम की घोषणा की थी। ऑस्ट्रेलिया की ओर से पिछले साल मार्च में प्रत्यर्पण की अपील की गई थी। भारत सरकार ने इसे पिछले महीने स्वीकार कर लिया था।

पत्नी और बच्चों को ऑस्ट्रेलिया में छोड़कर भागा
बताया जाता है ति तोया की हत्या के बाद राजविंदर सिंह 23 अक्टूबर, 2018 को अपनी पत्नी, तीन बच्चों और नौकरी को ऑस्ट्रेलिया में छोड़कर भारत भाग आया था। पुलिस ने उसकी खोज के लिए सार्वजनिक तौर पर तस्वीरें जारी की थी। उसके भाई ने पहले बताया था कि राजविंदर अमृतसर हवाई अड्डे पर उतरा था और काम को लेकर मानसिक तौर पर परेशान था। हालांकि, उसके बाद से उसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिल सकी थी।

चांदनी चौक के भगीरथ पैलेस में लगी भीषड़ आग, और फिर…

0

दिल्ली के चांदनी चौक के पास इलेक्ट्रॉनिक्स बाजार में कल रात भीषण आग लगने की खबर सामने आई है। आग दिल्ली के भगीरथ पैलेस मार्केट में लगी। चांदनी चौक का भगीरथ पैलेस इलेक्ट्रॉनिक्स का सबसे बड़ा मार्केट कहा जा रहा है। आग की ख़बर लगते ही मौके पर 40 से अधिक फायर ब्रिगेड की गाड़ियां पहुंच गईं, लेकिन इलेक्ट्रॉनिक्स सामान होने के कारण से आग तेजी से बढ़ रही है। आग इतनी भयानक स्तर पर लगी थी कि 40 से अधिक फायर दमकल की गाड़ियां होने के बावजूद भी बुझाने में कड़ी मश्क्कत करना पड़ गया है। चांदनी चौक के भगीरथ पैलेस मार्केट में लगी आग कल रात से आज सुबह तक धधक रही है।

कल रात से आग बुझाने की कोशिश में दमकल: कहा जा रहा है कि इस आग में चांदनी चौक के पास भगीरथ पैलेस मार्केट की तकरीबन 30 से 40 दुकानें जलकर खाक हो चुकी है। जिसके साथ साथ दो इमारतों को भी बहुत हानि पहुंच चुकी है। संकरी गलियां होने की वजह से दमकल की गाड़ियों को अंदर जाने में परेशानी होने लगी है। तकरीबन रातभर की मशक्कत के उपरांत भी आग पर पूरी तरह से काबू नहीं पाया गया है। जिसमे अब तक करोड़ों का नुकसान हो चुका है। वहीं आग की ख़बर पाकर घटनास्थल चांदनी चौक से भाजपा सांसद डॉ हर्षवर्धन भी पहुंचे। उन्होंने घटना का मुआयना किया और फायर ब्रिगेड की टीम को जल्द से जल्द आग पर काबू पाने के निर्देश भी दिए जा रहे है।

दुकानदारों ने की केजरीवाल सरकार के खिलाफ नारेबाजी: लोगों का इल्जाम है कि दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने चांदनी चौक क्षेत्र की मेन सड़क का तो सौंदर्यीकरण करवा चुके है, लेकिन सड़क किनारे दुकानों और गलियों में कुछ नहीं किया। अंदर तारों का जाल वैसे ही फैला है, संकरी गलियां वैसी ही हैं, जहां कोई गाड़ी नहीं जा पाएगी। आग लगने की स्थिति में पानी का इंतजाम नहीं है और कल जब भगीरथ पैलेस में आग लगी तो स्थानीय दुकानदारों का गुस्सा भड़क उठा और वो केजरीवाल सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लग गए।

ममता का कत्ल: अपने ही तीन बच्चों को मार डाला, दो को टैंक में फेंक खुद चार माह की मासूम को कमर में बांध कूदी

0

हरियाणा के नूंह में तीन दिन पहले खेड़ला गांव में अपने ही बच्चों को घर में बने पानी के टैंक में डालकर मारने वाली कलयुगी मां पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। पहले तो परिजन व रिश्तेदारों ने इस मामले को दूसरा रूप देते हुए हत्यारी मां को बचाने की कोशिश की। लेकिन अब पुलिस ने ही उक्त महिला के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। हालांकि महिला अभी उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती है। बता दें कि खेड़ला गांव का आरिफ जो ट्रक मिस्त्री है। तीन दिन पहले वो किसी काम से दिल्ली गया हुआ था। उसकी पत्नी शकुनत ने अपने ही तीन तीन बच्चे 10 साल की शबाना, आठ वर्षीय साद और चार माह के इकरार को घर में बने पानी के टैंक में डालकर मार दिया और बाद में खुद भी उसमें कूद गई।

बताया जा रहा है कि वो चार माह की बच्ची को अपनी कमर को बांधकर कूदी थी। बच्चों की तो मौके पर ही मौत हो गई। लेकिन जब शकुनत खुद पानी में तड़फने लगी तो उसने शोर मचाना शुरू किया। जिसे सुनकर पड़ोसियों ने उसे बचा लिया लेकिन तब तक बच्चों की मौत हो चुकी थी।

पड़ोसियों ने उसे उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज भेज दिया। इस हत्याकांड से पूरा गांव थर्रा उठा। लेकिन हत्यारी शकुनत को बचाने के लिए परिजनों व रिश्तेदारों ने तरह-तरह की अटकल बाजी लगाई। लेकिन पुलिस ने इस मामले में शकुनत को दोषी मानते हुए उसके खिलाफ बुधवार को हत्या सहित कई धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

आखिर क्यों उठा यह कदम?
ग्रामीण बताते हैं कि शकुनत के चार बच्चे थे। कमोबेश सभी मंदबुद्धि थे। हाल ही में हुई चार माह की बेटी को वो किसी डाक्टर को दिखाकर लाए थे तो डाक्टर ने उसे भी अन्य बच्चों की तरह मंदबुद्धि बता दिया। पहले से मानसिक रूप से परेशान शकुनत अपना आपा खो बैठी और उसने बच्चों सहित मरने के लिए घर में बने पानी के टैंक में पहले दो बच्चों को डाला और फिर चार माह की मासूम को अपनी कमर के साथ बांधकर खुद भी टैंक में कूद गई। इस हादसे में तीनों बच्चों की तो मौत हो गई, लेकिन वो खुद बच गई जो अब उपचार के लिए नलहड़ मेडिकल कॉलेज में दाखिल है।

जिस समय यह हादसा हुआ उस समय पुलिस को गुमराह किया गया कि यह हादसा हुआ है हत्या नहीं। पुलिस ने पहले दिन तो इस मामले में मामला दर्ज नहीं किया। परिजन शकुनत को बचाना चाहते थे, क्योंकि शकुनत व उसकी देवरानी सगी बहन है तो सास उसकी बुआ लगती है। इसलिए शकुनत के मायके वाले चाहते थे कि मामला यूं ही रफा-दफा हो जाए, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

शकुनत के खिलाफ हत्या सहित कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। जल्द ही उसे गिरफ्तार भी कर लिया जाएगा। अभी वो अस्पताल में भर्ती है। मामले की और भी कई विषयों को ध्यान में रखकर जांच की जाएगी।

G20 समिट में भी दिखेगा ममता-मोदी का टकराव, ‘दीदी’ ने अभी से दिखा दिए तेवर

0

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी G20 समिट की तैयारियों को लेकर बुलाई गई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक में शामिल होने के लिए 5 दिसंबर को नई दिल्ली जाएंगी। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा है कि वह इस मीटिंग में पश्चिम बंगाल की सीएम के रूप में नहीं, बल्कि तृणमूल कांग्रेस (TMC) की राष्ट्रीय अध्यक्ष में रूप में शामिल होंगी। इस मीटिंग में देश के राज्यों के मुख्यमंत्रियों को आमंत्रित किया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, सीएम ममता बनर्जी ने राज्य विधानसभा में मीडिया से बात करते हुए कहा कि, ‘मैं प्रधानमंत्री की बैठक में हिस्सा लेने के लिए 5 दिसंबर को नई दिल्ली जा रही हूं।’ उन्होंने बताया है कि वह दिल्ली से अजमेर शरीफ दरगाह जाएंगी, इसके बाद पुष्कर जाएंगी। भारत अगले साल सितंबर में G20 समिट की मेजबानी करेगा। ममता बनर्जी मुख्यमंत्रियों की मीटिंग से अलग पीएम मोदी से मुलाकात कर सकती हैं। वह उनके समाने प्रदेश की बकाया राशि और बाढ़, कटान जैसे मुद्दे उठा सकती हैं। उल्लेखनीय है कि ममता कई दफा यह कह चुकी हैं कि केंद्र सरकार फंड जारी करने में देर कर रही है, जिसके कारण विकास योजनाएं शुरू करने में दिक्कत हो रही है। वह दावा कर चुकी हैं कि 31 जुलाई 2022 तक ही केंद्र पर बंगाल सरकार के करोड़ों रुपये बाकी हैं।

बताया जा रहा है कि ममता, इस मीटिंग में फरक्का बैराज और उसके आसपास के इलाकों में गंगा नदी के कटान का मुद्दा उठा सकती हैं। वह इसको लेकर पीएम नरेंद्र मोदी को भी चिट्ठी लिख चुकी हैं। उन्होंने मांग की थी कि संबंधित मंत्रालय विस्तृत अध्ययन कर एकीकृत योजना बनाई जाए। सीएम ममता ने नदिया, मालदा, मुर्शिदाबाद में गंगा नदी के किनारे कटान को लेकर चिंता प्रकट की थी।

22,950FansLike
3,585FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Recent Posts