Home Blog

दिल्ली: पति ने पत्नी के सर पर मारा तवा पत्नी की मौके पर मौत पति फरार

0

असल न्यूज़। दिल्ली के साउथ ईस्ट जिले के जैतपुर इलाके में एक शख्स ने बुधवार सुबह पत्नी के सिर पर तवा मारकर हत्या कर दी। आरोपी सैयद अली (40) फरार हो गया। बेटे रेहान उर्फ छोटू ने मां हसीना (30) के फूफा को वारदात की जानकारी दी। वह अचेत हालत में सफदरजंग अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने हसीना को मृत करार दिया। डीसीपी ईशा पांडेय ने बताया कि हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया। हत्या में इस्तेमाल तवा बरामद कर लिया गया है। आरोपी सैयद अली की तलाश में छापेमारी चल रही है।

पुलिस अफसरों ने बताया कि हसीना अपने पति सैयद अली के साथ जैतपुर के ई-ब्लॉक में रहती थी। फैमिली मूल रूप से बिहार के बक्सर जिले की रहनी है। पति मजदूरी करता है। सफदरजंग अस्पताल से बुधवार सुबह 10 बजे हसीना के मृत हालत में आने की कॉल मिली। पुलिस अस्पताल पहुंची तो डॉक्टरों ने बताया कि महिला को मृत हालत में शाकिर नाम का शख्स लेकर आया था, जो उसका फूफा है।

पुलिस टीम वारदात वाले घर में पहुंची, जहां से तवा जब्त कर लिया। तफ्तीश में पता चला कि पति-पत्नी के बीच बुधवार सुबह किसी बात पर झगड़ा हुआ। सैयद ने सुबह करीब 7 बजे तवा उठाकर हसीना के सिर पर मार दिया। महिला के बेटे शाकिर ने इसकी खबर महिला के फूफा को दी, जो उसे अस्पताल ले गए थे। पुलिस अब पति की तलाश में जुटी है, जिसके बिहार भागने की आशंका जताई जा रही है।

एलान: सीबीएसई कक्षा 10वीं के नतीजे आने वाले हैं

0

असल न्यूज़: लाखों छात्र केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा 2022 के 10वीं और 12वीं के रिजल्ट की घोषणा का इंतजार कर रहे हैं। इससे पहले, यह उम्मीद की जा रही थी कि सीबीएसई परिणाम 2022 जून के महीने में जारी किया जाएगा। हालांकि, नवीनतम रिपोर्टों का दावा है कि सीबीएसई के नतीजे जुलाई में घोषित किए जाएंगे। सूत्रों ने संभावित तारीखों की घोषणा भी कर दी है। उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे ताजा अपडेट और अधिक जानकारी के लिए नियमित रूप से आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करते रहे।

जुलाई के पहले हफ्ते में जारी होगा 10वीं का रिजल्ट
हालांकि, अभी तक सीबीएसई 10वीं रिजल्ट 2022 और सीबीएसई 12वीं रिजल्ट घोषित होने के संबंध में कोई आधिकारिक अपडेट नहीं आया है, लेकिन उम्मीद है कि सीबीएसई 10वीं बोर्ड परीक्षा टर्म-2 का रिजल्ट जुलाई के पहले हफ्ते में जारी किया जाएगा। इसके चार जुलाई तक जारी होने की उम्मीद है। जबकि 12वीं बोर्ड टर्म-2 का रिजल्ट जुलाई के दूसरे सप्ताह तक जारी किया जाएगा। 12वीं कक्षा के परिणाम संभवतया 14 या 15 जुलाई को जारी किए जाएंगे।

टर्म-1 और टर्म-2 का वैटेज अभी भी तय नहीं
रिपोर्टों के अनुसार, कक्षा 10वीं की मूल्यांकन प्रक्रिया समाप्त हो गई है और कक्षा 12वीं की मूल्यांकन प्रक्रिया अभी भी कुछ केंद्रों पर लंबित है। वहीं, आधिकारिक सूत्रों को कहना है कि टर्म-1 और टर्म-2 का वेटेज अभी भी तय नहीं हो सका है। उम्मीद है कि कक्षा 10वीं के परिणाम 04 जुलाई, 2022 तक और कक्षा 12वीं के परिणाम 14 जुलाई तक घोषित किए जाएंगे।

Corona update: एक बार फिर बढ़े कोरोना के केस

0

असल न्यूज़: पिछले कई दिनों से देशभर में कोरोना मामलों में इजाफा देखने को मिला है. पिछले 24 घंटों में देश में कोविड-19 के 17,070 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. इसके बाद संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 4,34,69,234 हो गई है. वहीं, एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 1,07,189 हो गई.

एक्टिव केस एक लाख के पार

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 23 मरीजों के जान गंवाने से मृतकों की संख्या 5,25,139 पर पहुंच गई है. आंकड़ों के अनुसार, एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 1,07,189 पर पहुंच गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 0.25 प्रतिशत है, जबकि कोविड-19 से रिकवरी रेट 98.55 प्रतिशत है.

डेली पॉजिटिविटी रेट हुआ 3.40 फीसदी

स्वास्थय मंत्रालय के अनुसार, संक्रमण का डेली रेट 3.40 प्रतिशत और वीकली रेट 3.59 प्रतिशत दर्ज किया गया. इस बीमारी से रिकवर होने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 4,28,36,906 हो गई है जबकि डेथ रेट 1.21 फीसदी है. वहीं, अब तक देशभर में कोरोना वैक्सीन की 197.74 करोड़ डोज दी जा चुकी हैं.

ऐसे बढ़े मामले

गौरतलब है कि देश में सात अगस्त 2020 को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी. संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख और 19 दिसंबर 2020 को एक करोड़ से अधिक हो गए थे. देश में पिछले साल चार मई को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी. इस साल 25 जनवरी को मामले चार करोड़ के पार हो गए थे.

आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में देश में जिन 23 मरीजों ने जान गंवाई है उनमें से 15 केरल के थे. महाराष्ट्र में तीन तथा छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, पंजाब, राजस्थान और पश्चिम बंगाल में एक-एक मरीज की मौत हुई. स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अब तक जिन लोगों की कोरोना वायरस के संक्रमण से मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से अधिक मरीजों को अन्य गंभीर बीमारियां भी थीं. मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसके आंकड़ों का भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के आंकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है.

मुंबई: आरे कॉलोनी में ही बनाया जाएगा मेट्रो कार शेड

0

असल न्यूज़: महाराष्ट्र में नई सरकार बनने के बाद ही पुरानी सरकार में लिए गए फैसलों को बदलने की कवायद शुरू हो गई है. बीते गुरुवार को नई सरकार की गठन के बाद राज्य सरकार ने महाधिवक्ता को निर्देश दिया कि मेट्रो कार शेड मुंबई की आरे कॉलोनी में ही बनाया जाएगा. रिपोर्ट्स के मुताबिक नई सरकार ने आदेश देते हुए कहा है कि आरे कालोनी में मेट्रो कार शेड बनाए जाने वाले मामले में महाराष्ट्र सरकार का पक्ष अदालत के सामने पेश किया जाना चाहिए. बीते गुरुवार को हुई मंत्रीमंडल में यह भी निर्णय लिया गया कि राज्य विधानमंडल का विशेष सत्र 2 और 3 जुलाई को मुंबई में बुलाया जाएगा. गुरुवार को हुई कैबिनेट बैठक में डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने नगर विकास विभाग के अधिकारियों को आरे में कार शेड निर्माण का प्रस्ताव कैबिनेट के समक्ष लाने का निर्देश दिया.

डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि कोलाबा-बांद्रा-सीप्ज़ ​​के बीच 33 किलोमीटर लंबी भूमिगत मेट्रो परियोजना कांजुरमार्ग भूखंड पर कानूनी तकरार के कारण अटक गई थी, जहां पिछली महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार ने मेट्रो कार शेड बनाने का प्रस्ताव रखा था. कैबिनेट बैठक में फडणवीस ने नौकरशाहों से पूछा कि क्या महाधिवक्ता के माध्यम से अदालतों को अवगत कराया जा सकता है कि कार शेड आरे में ही बनाया जाएगा. वहीं बैठक में सीएम एकनाथ शिंदे ने इस कदम का समर्थन किया. आरे से कार शेड को स्थानांतरित करने का कदम शिवसेना और उसकी पूर्व सहयोगी भाजपा के बीच विवाद का एक प्रमुख कारण रहा है.

राज्य की बागडोर संभालने के एक दिन बाद, 29 नवंबर, 2019 को उद्धव ठाकरे ने आरे में कार शेड बनाने के फडणवीस के फैसले को पलट दिया था. मुंबई में कई पर्यावरणविदों ने आरे में कार शेड के निर्माण का विरोध किया था, जो संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान का विस्तार है और तेंदुओं और अन्य जीवों के लिए एक निवास स्थान है. पर्यावरणविदों, जिन्होंने दावा किया था कि कार शेड मुंबई में हरियाली के बड़े हिस्से को नुकसान पहुंचाएगा, आदित्य ठाकरे द्वारा समर्थित थे. एमवीए सरकार के सत्ता में आने के तुरंत बाद, आरे में 804 एकड़ भूमि को आरक्षित वन घोषित कर दिया गया.

कांजुरमार्ग में वैकल्पिक जमीन पर कार शेड बनाने की मांग की गई थी. हालाँकि, बॉम्बे हाई कोर्ट ने दिसंबर 2020 में कांजुरमार्ग में शेड के निर्माण पर रोक लगाकर ठाकरे सरकार के सबसे बड़े फैसलों में से एक पर रोक लगा दी थी. भाजपा ने दावा किया था कि कार शेड को आरे से स्थानांतरित करने का निर्णय ठाकरे के अहंकार को संतुष्ट करने के लिए किया जा रहा है और इससे भूमिगत मेट्रो परियोजना के निर्माण में चार साल की देरी होगी और इसकी लागत में वृद्धि होगी.

एलपीजी सिलेंडर हुआ 198 रुपये सस्ता, जानिए आपके शहर में कितना घटा दाम

0

असल न्यूज़: भारत में महंगाई अपने चरम पर है. जीएसटी (वस्तु एवं सेवाकर) परिषद खाद्य पदार्थों की कीमतों में एक बार फिर बढ़ोतरी करने का प्लान बना रही है. अगर जीएसटी परिषद के विचाराधीन स्लैबों पर अमल में लाया जाता है, तो निकट भविष्य में पैकेटबंद खाद्य पदार्थों की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो जाएगी. इस बीच, राहत देने वाली बात यह है कि देश में सार्वजनिक क्षेत्र की तेल विपणन कंपनियों ने एलीपीजी की कीमतों में तकरीबन 198 रुपये कटौती करने का फैसला किया है. अब आप सोच रहे होंगे कि आपकी रसोई में यूज होने वाले 14.2 किलो वाले एलपीजी सिलेंडर के दाम घट गए हैं. मगर तेल कंपनियों ने रेस्टोरेंट और ढाबों में इस्तेमाल होने वाले व्यावसायिक सिलेंडरों की कीमतों में कटौती की है.

दिल्ली में सिलेंडर 198 रुपये सस्ता
मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, दिल्ली में आज इंडेन का एलपीजी सिलेंडर 198 रुपये सस्ता हो गया है. वहीं, कोलकाता में 182 रुपये, मुंबई में 190.50 रुपये और चेन्नई में 187 रुपये कमी की गई है. पेट्रोलियम कंपनी इंडियन ऑयल ने कॉमर्शियल सिलेंडर के रेट में यह कटौती की है, जबकि घरेलू एलपीजी सिलेंडर उपभोक्ताओं को कोई राहत नहीं मिली है. 14.2 किलो वाले घरेलू सिलेंडर नहीं हुआ है. घरेलू सिलेंडर अब भी 19 मई वाले रेट पर ही मिल रहा है.

जून में भी व्यावसायिक सिलेंडर के दाम में हुई थी कटौती
मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, इस साल के जून महीने में इंडेन का व्यावसायिक सिलेंडर 135 रुपये सस्ता हुआ था, जबकि मई में घरेलू एलपीजी सिलेंडर दो बार बढ़ोतरी की गई थी. घरेलू सिलेंडर के रेट महीने में पहली बार 7 मई को 50 रुपये बढ़ाए गए थे और 19 मई को भी घरेलू एलपीजी गैस सिलेंडर के दाम में वृद्धि की गई.

किस शहर में कितना है घरेलू सिलेंडर के दाम
रिपोर्ट्स के अनुसार, दिल्ली में घरेलू सिलेंडर के दाम 1,003 रुपये हैं. वहीं, मुंबई में 1,003 रुपये, कोलकाता में 1,029 रुपये, चेन्नई में 1,019 रुपये, लखनऊ में 1,041 रुपये, जयपुर में 1,007 रुपये, पटना में 1,093 रुपये, इंदौर में 1,031 रुपये हैं. इसके साथ ही, गुजरात के अहमदाबाद में 1,010 रुपये, पुणे में 1,006 रुपये, गोरखपुर में 1012 रुपये, भोपाल में 1009 रुपये, आगरा में 1016 रुपये और रांची में घरेलू सिलेंडर के दाम 1061 रुपये हैं.

एक साल में कितना बढ़ा घरेलू एलपीजी का दाम
दिल्ली में पिछले एक साल में घरेलू एलपीजी सिलेंडर का रेट 834.50 रुपये से बढ़कर 1003 रुपये पर पहुंच गया है. 14.2 किलो वाले घरेलू एलपीजी सिलेंडर के रेट में आखिरी बार 4 रुपये की बढ़ोतरी 19 मई 2022 को हुई थी. इससे पहले दिल्ली में 7 मई को रेट 999.50 रुपये प्रति सिलेंडर था. 22 मार्च 2022 के रेट 949.50 रुपये के मुकाबले सात मई को एलपीजी सिलेंडर 50 रुपये महंगा हुआ था. 22 मार्च को भी सिलेंडर की कीमत में 50 रुपये की उछाल आई थी. इससे पहले अक्टूबर 2021 से फरवरी 2022 तक घरेलू एलपीजी सिलेंडर के रेट दिल्ली में 899.50 रुपये पर टिके थे.

दिल्ली एयरपोर्ट पर कोकीन तस्करी में महिला गिरफ्तार, 947 ग्राम कोकीन बरामद

0

असल न्यूज़। राजधानी दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट पर कस्टम अधिकारियों ने एक महिला लाइब्रेरियन को कोकीन तस्करी के आरोप में अरेस्ट किया है। महिला ने अपना दिमाग तो खूब लगाया था लेकिन एयरपोर्ट पर जांच कर रहे कस्टम अधिकारियों को गच्चा देने में कामयाब नहीं हो सकी। महिला ने अपने बैग में 11 कुर्तों के बड़े बटन में 947 ग्राम कोकीन छुपा कर रखी थी। इस कोकीन की कीमत 13 करोड़ 26 लाख रुपये बताई जा रही है। कस्टम अधिकारियों ने बुधवार को इस महिला को सुरक्षा जांच के दौरान पकड़ लिया।

टर्मिनल-3 पर उतरी थी महिला अधिकारियों ने बताया कि 25 साल की महिला सोमवार को टर्मिनल-3 एयरपोर्ट पर उतरी थी। महिला के सामान ने 11 कुर्ते रखे थे। इन कुर्तों पर बड़े बटन लगाए गए थे, जो दिखने में थोड़े असामान्य लग रहे थे। अधिकारी ने बताया कि जांच के दौरान बटन को काट कर देखा गया। इस दौरान बटन में से कुछ सफेद चीज निकली। इसके बाद सभी बटनों को काट कर खोला गया। वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कुल 272 बटन में 972 ग्राम नारकोटिक्स पदार्थ मिला गया। डायग्नोस्टिक टेस्ट में पाया गया कि यह कोकीन थी। इस कोकीन की कीमत 13.26 करोड़ बताई गई।

महिला के पास से 59 लाख रुपये की विदेशी करंसी जब्त एक अन्य घटना में, सीआईएसएफ कर्मियों ने आईजीआई हवाई अड्डे पर 59 लाख रुपये की विदेशी करंसी जब्त की। सीआईएसएफ कर्मियों ने संदेह के आधार पर दो लोगों की सीसीटीवी फुटेज को मॉनिटर किया। ये लोग चंडीगढ़ जाने वाली फ्लाइट में सवार होने वाले थे। दोनों में एक व्यक्ति ने “संदेह पर, दो भारतीय यात्रियों के पूरे आंदोलन के सीसीटीवी फुटेज, जो चंडीगढ़ के लिए एक उड़ान के लिए बाध्य थे। उनमें से एक ने ‘जे’ पंक्ति चेक इन के लिए पहुंचा। बाद में दुबई जाने वाली अमीरात एयरलाइंस में एक बैग चेकइन किया और अपना बोर्डिंग पास लिया।

महिला चंडीगढ़ जाने वाली फ्लाइट का लिया बोर्डिंग पास इसके बाद वह वाशरूम में गया और अपने कपड़े बदलने के बाद, वह ‘बी’ पंक्ति के चेक-इन काउंटर पर पहुंचा। यहां उसने चंडीगढ़ जाने वाली फ्लाइट के लिए अपना बोर्डिंग पास लिया। सीआईएसएफ के एक अधिकारी ने बताया कि चतुराई से पूछताछ करने पर, यह पता चला कि वह व्यक्ति बड़ी मात्रा में विदेशी मुद्रा ले जा रहा था। पता चलने के डर से, उसने दुबई से चंडीगढ़ के लिए अपना डेस्टिनेशन बदल दिया। सीआईएसएफ ने बाद में दो और संदिग्धों की पहचान की। इनके पास से 19,740 सऊदी रियाल और 15,200 अमेरिकी डॉलर बरामद किए।

कन्हैया के परिवार के लिए BJP नेता कपिल मिश्रा ने 24 घंटे के अंदर 1.37 करोड़ रुपए जुटाए

0

असल न्यूज़: आतंकी संगठनों से जुड़े कट्टरपंथियों के हाथों उदयपुर में कत्ल किए गए कन्हैया के परिवार के साथ राजस्थान ही नहीं देशभर के लोगों की सहानुभूति है। टेलर की दुकान चलाने वाले कन्हैया ही परिवार की आमदनी का एकमात्र जरिया था। अब उनकी मौत से परिवार के सामने खड़ी हुई चुनौती को कम करने के लिए लोगों ने दिल खोलकर दान दिया है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता कपिल मिश्रा ने क्राउड फंडिंग के जरिए कन्हैया के परिवार के लिए 1.37 करोड़ रुपए जुटाए हैं। महज 24 घंटे के भीतर लोगों ने एक करोड़ रुपए से अधिक की राशि कन्हैया के परिवार को दी है।

30 दिन में 1 करोड़ जुटाने का था टारगेट
कपिल मिश्रा की ओर से शुरू किए गए कैंपेन में 12 हजार से अधिक लोगों ने अपनी क्षमता के मुताबिक सहायता की। 30 दिन में एक करोड़ एकत्रित करने का टारगेट रखा गया था लेकिन महज 24 घंटे में 1.37 करोड़ रुपए आ चुके हैं। अकेले फिल्म मेकर मनीष मुंद्रा ने 11 लाख रुपए दिए हैं। कपिल मिश्रा के मुताबिक, देश और दुनिया के अलग-अलग कोनों से लोगों ने मदद भेजी है।

कन्हैया के परिवार को चेक देंगे कपिल
कपिल मिश्रा ने कैंपेन की शुरुआत करते हुए ट्विटर पर लिखा, ”उदयपुर में कन्हैया लाल जी की हत्या। एक गरीब हिन्दू को आतंकियों ने मार दिया। कन्हैया लाल जी के परिवार की जिम्मेदारी अब हमारी हैं। उनके पत्नी, बच्चों को ना अकेला पड़ने देंगे ना कमजोर।” मिश्रा ने कहा कि वह इस कैंपेन के जरिए एकत्रित राशि को खुद कन्हैया के घर जाकर परिवार को सौंपेंगे।

राजस्थान सरकार ने दिए 51 लाख रुपए
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गुरुवार को कन्हैयालाल के घर पहुंचे और परिवार को 51 लाख रुपये का चेक सौंपा। उन्होंने कन्हैया के दोनों बेटों को सरकारी नौकरी देने का भी वादा किया है। गौरतलब है कि 28 जून को मोहम्मद रियाज और गौस मोहम्मद नाम के दो आरोपियों ने दुकान में घुसकर धारदार हथियार से कन्हैयालाल की हत्या कर दी। नूपुर शर्मा के समर्थन में किए गए एक पोस्ट की वजह से उनकी हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि यह पोस्ट कन्हैया के बेटे से गेम खेलते वक्त गलती से फेसबुक पर अपलोड हो गया था।

बवाना में दो झपट मारो को पुलिस ने रंगे हाथ किया गिरफ्तार

0

असल न्यूज़: (नीति सैन) बाहरी उत्तरी दिल्ली के बवाना थाना पुलिस की टीम ने रंगे हाथ गिरफ्तार किए दो झापड़ मार बवाना औद्योगिक क्षेत्र के सेक्टर 4 में एक राहगीर का मोबाइल फोन छीन कर भाग रहे दो झपट मारो को पीछा कर थोड़ी ही दूरी पर धर दबोचा दिल्ली पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक दोनों आरोपी आदतन अपराधी है और पहले भी लूटपाट व स्नैचिंग की वारदातों को अंजाम दे चुके हैं.

जिस वक्त आरोपियों ने स्नैचिंग की वारदात को अंजाम दिया था उसी वक्त बवाना थाने की होक आई की टीम इलेक्शन में पेट्रोलिंग कर रही थी जैसे ही राहगीर ने शोर मचाना शुरू किया तो पेट्रोलिंग टीम मौके पर पहुंची और आरोपियों का पीछा करना शुरू किया बवाना थाना पुलिस की टीम की मुस्तैदी के चलते आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया गिरफ्तार आरोपियों के पास से छीना जा मोबाइल फोन व वारदात में इस्तेमाल बाइक भी बरामद कर ली गई हैं

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान प्रिंस व संदीप के रूप में हुई है दोनों ही आरोपी बवाना जेजे कॉलोनी के रहने वाले हैं और इलाके में लूटपाट व स्नैचिंग की वारदातों को अंजाम देकर फरार हो जाया करते थे फिलहाल बवाना थाना पुलिस की टीम की मुस्तैदी के चलते इन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और गिरफ्तार दोनों आरोपियों से बवाना थाना पुलिस की टीम पूछताछ में जुटी है बवाना थाना पुलिस की टीम का दावा है की आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद इलाके के कुछ और अपराधिक मामले भी खुल सकते हैं.

दिल्ली में मॉनसून की एंट्री के साथ झमाझम बारिश, आंधी-तूफान का अलर्ट…

0

असल न्यूज़: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों के मौसम में आज बदलाव आया है. मॉनसून का इंतजार कर रहे लोगों को गुरुवार सुबह तब राहत मिली, जब कई इलाकों में तेज बारिश हुई. दिल्ली में मॉनसून की दस्तक हो गई है. बारिश की वजह से पिछले कई दिनों से पड़ रही चिपचिपी गर्मी से भी राहत मिली है. दिल्ली-NCR के इलाकों में आज आंधी-तूफान का भी अलर्ट है. मालूम हो कि बीते कई दिनों से राजधानी का तापमान 40 डिग्री के आसपास बना हुआ था. मौसम विभाग का अनुमान है कि आज छह से सात डिग्री सेल्सियस तक तापमान में गिरावट दर्ज की जाएगी. राजधानी दिल्ली में आज मॉनसून की दस्तक होने की संभावनाएं जताई गई थीं. मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि दिल्ली में आज मॉनसून की एंट्री हो गई है.

दिल्ली-एनसीआर में आज सुबह बारिश के साथ तेज हवाएं भी चलीं. इसके चलते मौसम में ठंडक महसूस की जा रही है. मौसम विभाग (IMD) ने अगले कई दिनों तक दिल्ली में बारिश के आसार जताए हैं. दिल्ली में आज का न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस तक जाएगा. आज मध्यम गति से बारिश हो सकती है. एक जुलाई को आसमान में बादल छाए रहेंगे, जबकि ठीक-ठाक बारिश भी होगी. चार जुलाई को भारी बरसात के साथ आंधी-तूफान आने की भी भविष्यवाणी की गई है.

इन इलाकों में भी बारिश
मौसम विभाग ने गुरुवार सुबह पूर्वानुमान जारी किया कि दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में अगले कुछ देर में दिल्ली-एनसीआर, हरियाणा, यूपी, राजस्थान के कुछ इलाकों में बारिश होगी. मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली और एनसीआर (लोनी देहात, हिंडन एएफ स्टेशन, गाजियाबाद, इंदिरापुरम, छपरौला, नोएडा, दादरी, ग्रेटर नोएडा) के आसपास 30-40 किमी / घंटा की गति के साथ हवाएं और हल्की से मध्यम तीव्रता वाली बारिश होगी. इसके अलावा, गुरुग्राम, फरीदाबाद, मानेसर, बल्लभगढ़, कैथल, पानीपत, गोहाना, गन्नौर, महम, सोनीपत, रोहतक, खरखोदा, भिवानी, चरखी दादरी, झज्जर, कोसली, महेंद्रगढ़, सोहाना, रेवाड़ी, पलवल, नारनौल, बावल, नूंह, सहारनपुर, देवबंद, नजीबाबाद, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, खतौली, सकोटी टांडा, हस्तिनापुर, चांदपुर, बड़ौत, दौराला, बागपत, मेरठ, मोदीनगर, अमरोहा, मुरादाबाद, रामपुर, पिलखुआ, हापुड़, संभल, बिलारी, मिलक, चंदौसी, बरेली, बदायूं, हाथरस, मथुरा, आगरा (यूपी.), अलवर, विराटनगर, डीग, लक्ष्मणगढ़, राजगढ़ (राजस्थान) में भी बारिश की संभावना है.

दिल्ली, हरियाणा के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी
मौसम विभाग ने दिल्ली, हरियाणा में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया था. इसके लिए IMD ने गुरुवार के लिए दोनों जगह ऑरेंज अलर्ट जारी किया. वहीं, यूपी और उत्तराखंड जैसे राज्यों के लिए बीते दिन मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है. दिल्ली में आज हवा की रफ्तार 30-40 किलोमीटर प्रति घंटे तक बताई जा रही है.

पिछली बार 13 जुलाई को दिल्ली पहुंचा था मॉनसून
दिल्ली में पिछले कई दिनों से मॉनसून का बेसब्री से इंतजार है. स्काईमेट वेदर के वाइस प्रेसिडेंट ने भी इस पर ट्वीट किया. उन्होंने कहा कि बिहार, उत्तराखंड, यूपी में मॉनसून की दस्तक हो चुकी है. जल्द ही राजस्थान, हरियाणा और पंजबा में भी आगमन होगा. गर्मी और तापमान से राहत मिलेगी. बता दें ओडिशा और कर्नाटक, केरल समेत देश के ज्यादातर राज्यों में मॉनसून पहले ही पहुंच चुका है. इन राज्यों में ठीक-ठाक बारिश हो रही है. कृषि विशेषज्ञों के अनुसार मॉनसून की बारिश फसलों को भी बेहद फायदा पहुंचाएगी. दिल्ली में पिछले साल मॉनसून के आने में देरी हुई थी. आईएमडी ने भविष्यवाणी की थी कि मॉनसून अपनी सामान्य तिथि से लगभग दो सप्ताह पहले दिल्ली पहुंच जाएगा. हालांकि, यह 13 जुलाई को राजधानी पहुंचा, यह 19 सालों में दिल्ली में सबसे देरी से पहुंचने वाला मॉनसून था.

सावधान: व्हाट्सएप पॉलिसी के अनुसार ही डालें फोटो वीडियो व पोस्ट

0

असल न्यूज़: देश में ही नहीं दुनियाभर में व्हाट्सएप का इस्तेमाल किया जाता है। चैट, ऑडियो और वीडियो कॉलिंग के लिए लोग व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हैं। आज के समय में इस मैसेजिंग ऐप को सबसे ताकतवर माना जा रहा है। इसके जरिए मिनटों में कोई भी वीडियो, फोटो या जानकारी वायरल हो सकती है। हालांकि, इसका इस्तेमाल करने वाले कुछ लोगों को व्हाट्सएप पॉलिसी का पता ही नहीं होता है या वो उसे जानने की कोशिश ही नहीं करते हैं। यूजर्स द्वारा पॉलिसी का पालन न करने पर कानूनी कार्रवाई हो सकती है। आइए जानते हैं कि व्हाट्सएप पर किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

व्हाट्सएप पॉलिसी के अनुसार यूजर किसी को भी ऐसी फोटो या वीडियो साझा नहीं कर सकता है जो समाज में हिंसा को बढ़ावा दे या समाज को विभाजित करे। ऐसे में व्हाट्सएप खुद उस अकाउंट के खिलाफ संज्ञात लेता है और उसे बैन कर सकता है।

पिछले महीन करीब 16 लाख यूजर्स हुए बैन

आपको जानकारी के लिए बता दें कि हर महीने व्हाट्सएप उन अकाउंट्स को बैन करता है जो कंपनी के पॉलिसी के खिलाफ जाकर काम करते हैं। पिछले महीने मई में करीब 16 लाख अकाउंट्स को व्हाट्सएप ने बैन कर दिया है। हालांकि, उनमें से कुछ यूजर्स ने सफाई देने के बाद खाते को फिर से चालू करवा लिया है।

भूलकर भी न भेजें ऐसे मैसेज

व्हाट्सएप पर किसी भी तरह के ऐसे मैसेज को नहीं भेजना चाहिए जो धार्मिक विश्वास को ठेस पहुंचा सकते हैं। इसके अलावा भड़काऊ मैसेज को भी आपको शेयर नहीं कर सकते हैं। ऐसे में पुलिस आपको गिरफ्तार कर सकती है। इसके अलावा आप दंगा भड़काने वाली तस्वीरें, चाइल्ड पोर्न और असमाजिक कंटेंट भी साझा नहीं कर सकते हैं। अगर ऐसा किसी ग्रुप में हो तो उसके एडमिन के खिलाफ कार्रवाई हो सकती है।

22,950FansLike
3,377FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Recent Posts