Home Blog

यमुना रक्षक कप पर दिल्ली पुलिस की वेस्टर्न रेंज ने कब्जा जमाया

0

नई दिल्ली। यमुना रक्षक कप के फाइनल के दिलचस्प मुकाबले में सीडब्लयूजी ग्रांउड, अक्षरधाम मैदान पर दिल्ली पुलिस की वेस्टर्न रेंज एकादश ने राष्ट्रपति भवन आफिसर्स एकादश को तीन विकेट से हराकर रक्षक कप पर अपना कब्जा जमाया।

आयोजक राजीव निशाना द्वारा उछाले गए टास को राष्ट्रपति भवन आफिसर्स एकादश के कप्तान वेदप्रकाश सूर्या ने जीता और पहले क्षेत्ररक्षण करने का निर्णय किया। बल्लेबाजों को मैदान में उतरी दिल्ली पुलिस की वेस्टर्न रेंज एकादश के कप्तान संतोष कुमार मीणा की टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 152 रन बनाए।

लक्ष्य का पीछा करती हुई राष्ट्रपति भवन आफिसर्स एकादश की टीम निर्धारित 20 ओवर की समाप्ति पर 7 विकेट खोकर 151 रन ही बना पाई। मैच का रोमांच इतना रहा, कि अंतिम बाल तक दोनों टीमें सांस थामे बैठी रही, अंततः मात्र एक रन की दूरी ने वेस्टर्न रेंज एकादश को जीत का स्वाद चखा दिया।

इंडियन भारतीय रेलवे माल गोदाम श्रमिक यूनियन की कर्मी सभा आयोजित हुई ||

0

असल न्यूज़: रेलवे के हटिया कम्यूनिटी हॉल में इंडियन भारतीय रेलवे माल गोदाम श्रमिक यूनियन की कर्मी सभा आयोजित हुई, जिसमें यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष परिमल कांति मंडल, महासचिव विद्याधर मल्लिक सहित यूनियन के अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे. राष्ट्रीय अध्यक्ष परिमल कांति मंडल महोदय ने कहा, “गोदाम के कर्मचारी ब्रिटिश शासन से वंचित हैं, उन्हें उनके सही मजदूरी का भुगतान नहीं किया जाता है, उनके पास उचित कपड़े नहीं हैं, पीने का पानी नहीं है, शौचालय नहीं है, कोई विश्राम स्थल नहीं है। वहां वे वैगन के नीचे गमछे बिछाकर आराम करते हैं। जब वे कड़ी धूप में पसीने से तर शरीर में पानी पीने के लिए या शौचालय जाने के लिए प्लेटफार्म में जाते है तब रेलवे टीटी या रेलवे पुलिस द्वारा उन्हें अपमानित होना पडता है, क्योंकि उनके पास कोई पहचान पत्र या आईकार्ड नहीं है। बड़ी बात यह है कि इनके ऊपर निर्भर कर 70 प्रतिशत मुनाफा लिए इतना बड़ा रेलवे साम्राज्य चल रहा है।

रेलवे उनके लिए बोरा प्रति 5 रुपये 70 पैसे खर्च करता है, लेकिन श्रमिकों ने पुरे महीनों 10 हजार रुपए भी ले नहीं जा सकता। क्योंकि रेलवे ठेकेदारों को भुगतान करता है। वे सीधे श्रमिकों को भुगतान नहीं करते हैं। श्रमिकों के नाम रेल में पंजीकृत नहीं है। हम चाहते है उनकी स्थायीकरण किया जाय और उनको रेलकर्मी का दर्जा दिया जाय। इसके साथ और मांगे यह है कि उन्हें ड्यूटी कपड़ा दिया जाय, उन्हें सेवानिवृत्ति पेंशन दी जाए, पहचान पत्र दिए जाएं, 100 किलो मीटर की दूरी तक काम करने के लिए मुफ्त रेल पास दिया जाए, रेलवे अस्पतालों में मुफ्त इलाज किया जाए। उन बच्चों को मुफ्त शिक्षा मिले।

यदि कोई कर्मचारी बीमारी के कारण नौकरी खो देता है या मर जाता है, तो परिवार के किसी सदस्य के लिए नौकरी की व्यवस्था की जानी चाहिए। श्रमिकों के लिए शेड में पीने का पानी, शौचालय और विश्राम स्थल उपलब्ध कराया जाना चाहिये। यह मांगों को लेकर हमने सरकार से बात की है. सरकार ने भी माना है कि जायज मांगें हैं। हम उम्मीद करते हैं कि हम बहुत जल्द गोदाम कर्मचारियों को नया सूरज दिखा पाएंगे। इनके अलावा भी वक्तव्य पेश किए महा सचिव श्री विद्याधर मल्लिक, सह सचिव श्री इंदुशेखर चक्रबर्ती, केन्द्रीय कमिटि के सदस्य श्री चंद्रनाथ हालदार, जाकिर हुसैन जैसे नेताये ||

एबी मोटर्स की इलेक्ट्रिक स्कूटर लेकर संसद भवन पहुंची बीजेपी उपाध्यक्ष भारती शियाल

0

शिवानी कौर। देश की राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण का स्तर हर साल बद से बदतर होता जा रहा है। केंद्र और राज्य सरकारों की सारी कोशिशें नाकाम साबित हो रही हैं। भले ही दिल्ली में नए वाहन कानून के तहत डीजल और पेट्रोल की पुरानी गाड़ियों पर प्रतिबंध लग गया हो लेकिन दिल्ली की दम घोटू हवा में कोई सुधार नहीं हो रहा है। ऐसे में कुछ भारतीय कंपनियों ने देश के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को समझा और प्रदूषण की रोकथाम के लिए तरह-तरह के सार्थक कदम उठा रही हैं।

इनमें से ही एक नाम है डॉ अभय बंसल, जिन्होंने अपनी कंपनी एबी मोटर्स के तहत एक इलेक्ट्रिक स्कूटर का निर्माण किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वोकल फॉर लोकल नीति के तहत ही इस इलेक्टिक स्कूटर का निर्माण पूरी तरह से भारत में ही किया गया है। जिनका मकसद प्रदूषण मुक्त नए भारत के निर्माण में योगदान देना है। कारोबारी डॉक्टर अभय बंसल की इस मुहिम में भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता और उपाध्यक्ष भारती शियाल ने सराहा है।

संसद सत्र के दौरान वह खुद एबी मोटर्स की पहली इलैक्ट्रिक स्कूटर को 20 जनपत से लेकर संसद भवन तक गयी। सांसद भारती शियाल का मानना है कि समय रहते प्रदूषण को कम करने के लिए जल्द से जल्द इलेक्ट्रिक व्हीकल को अपनाना पड़ेगा, नहीं तो हमारी आने वाली पीढ़ी दम घोंटू जहरीली हवा की शिकार हो जाएगी। इस दौरान एबी मोटॉस के डायरेक्टर सार्थक बंसल ने इलैक्ट्रिक स्कूटर के तकनिको के बारे में बताया। इस कार्यक्रम में धीरु भाई शियाल, वीरेंद्र और एस्ट्रोलॉजर दिनेश मकवाना उपस्थित रहे।

महिला के साथ दुष्कर्म का प्रयास करने वाले को ग्रामीणों ने जमकर धुना

0

उत्तर प्रदेश: मुजफ्फरनगर में चापड़ पुलिस थाने के अंतर्गत एक गांव में व्यक्ति ने महिला का कथित तौर पर यौन शोषण किया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि महिला जब खेतों की ओर जा रही थी तभी यह वारदात हुई। आरोपी शख्स ने महिला को खेतों में खींचा और उससे दुष्कर्म करने की कोशिश की।

महिला मदद के लिए चीखी चिल्लाई, जिसके बाद गांव वाले घटनास्थल पर पहुंचे और महिला को छुड़ाया। उन्होंने आरोपी की पिटायी की।

पुलिस ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354 और एससी/एसटी अत्याचार कानून की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

वहीं, पड़ोसी शामली जिले में एक अन्य मामले में 15 साल की लड़की के यौन शोषण के आरोप में एक शख्स को गिरफ्तार किया गया है। यह घटना कैराना पुलिस थाने के तहत आने वाले एक गांव में शनिवार को हुई। पुलिस ने बताया कि नकुल देव के खिलाफ यौन शोषण और पीड़िता को धमकी देने के आरोपों में मामला दर्ज किया गया है।

दुष्कर्म पीड़िता पर चाकू से हमला कर बदमाश फरार…..

0

शाहदरा: आनंद विहार थाना क्षेत्र में एक दुष्कर्म पीड़िता पर केस वापस लेने की धमकी देते हुए दो बदमाशों ने चाकू से हमला कर दिया। वारदात के बाद आरोपी फरार हो गए। घायल पीड़िता को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उपचार के बाद उसे छुट्टी दे दी गई। पुलिस केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

पीड़िता दक्षिणपुरी स्थित अपने मायके में रह रही है। पीड़िता की शादी साल 2013 में पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी में रहने वाले एक युवक से हुई थी। उसका पति नशे का आदी है। वह नशे में उसके साथ मारपीट करता था। इससे परेशान होकर इसी साल अप्रैल में वह पति से अलग त्रिलोकपुरी में ही अलग कमरा लेकर रहने लगी। इस दौरान पीड़िता ने एक ब्यूटी पार्लर की दुकान खोल ली। आरोप है कि सितंबर में उसका देवर उसकी दुकान में पहुंचा और जबरन उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता ने पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस ने उसके देवर के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कर जांच शुरू की।

इसके बाद पीड़िता अपने मायके में ही आकर रहने लगी। देवर लगातार उस पर केस वापस लेने का दबाव बना रहा था। पीड़िता के अनुसार, 24 नवंबर को वह अपने केस के सिलसिले में कड़कड़डूमा कोर्ट में वकील से मिलने आई थी। लौटते वक्त कड़कड़डूमा कोर्ट की लाल बत्ती पर स्कूटी सवार नकाबपोश दो बदमाशों ने उसे रोक लिया। बदमाश उसके साथ गाली-गलौज करने लगे। इसी दौरान एक आरोपी ने चाकू निकालकर हमला कर दिया। वारदात के बाद आरोपी केस वापस न लेने पर जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए। पुलिस केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है।

बदमाशों ने की घर के बाहर पिस्टल से ताबड़तोड़ फायरिंग……

0

दिल्ली: गीता कॉलोनी में बदमाशों ने एक महिला के घर के बाहर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। गनीमत यह रही कि किसी को गोली नहीं लगी। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और कारतूस के खोल बरामद किए। पुलिस केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है।

पीड़िता तनू मनचंदा परिवार के साथ गीता कॉलोनी के ब्लॉक-12 में रहती हैं, वह गृहणी हैं। परिवार में पति अर्जुन मनचंदा, एक बेटा और एक बेटी है। तनू के अनुसार, वह बेटा और बेटी के साथ मकान के भूतल पर बैठी थीं, उनके बेटा-बेटी पढ़ाई कर रहे थे। पति घर से बाहर गए हुए थे। इसी दौरान घर के बाहर गोलियां चलने की आवाजे आईं। वह तुरंत प्रथम तल की बालकनी में पहुंची और देखा कि दो युवक उनके घर के बाहर खड़े हैं। एक युवक पिस्टल से फायरिंग कर रहा है। थोड़ी दूरी पर खड़ा एक तीसरा युवक फायरिंग का वीडियो बना रहा है।

वारदात के बाद आरोपी रानी गार्डन की तरफ भाग गए। उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और कारतूस के खोल बरामद किए। तनू के अनुसार, उन्हें नहीं पता कि बदमाशों ने उनके घर के बाहर गोलियां क्यों चलाईं। पुलिस केस दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

14 साल के लड़के ने सेल्फी लेते हुए खुद को गोली मारी

0

असल न्यूज़: उत्तर प्रदेश के मेरठ में लोडेड गन के साथ सेल्फी लेने के दौरान 14 साल के लड़के ने गलती से खुद को सिर में गोली मार ली। 14 साल का उवैश अहमद गोलीयों से भरी हुई बंदूक के साथ छेड़छाड़ कर रहा था। उसने बंदूक को अपने सिर में रखा और सेल्फी के लिए पोज दिए, तभी अचानक से गोली चल गई। गोली लगने से युवक की मौके पर ही मौत हो गई।

घटना रविवार को लिसारी गेट इलाके की है।

कोतवाली के सर्कल ऑफिसर (सीओ) अरविंद चौरसिया ने संवाददाताओं से कहा कि पीड़ित के बड़े भाई सुहैल हाल ही में चोरी के एक मामले में जेल में बंद है, और उसका आपराधिक इतिहास है। बन्दूक शायद उसी का था। इस बात का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है कि उवैश को हथियार कैसे मिला।

पुलिस ने कहा कि जांच से पता चला है कि लड़के ने गलती से ट्रिगर दबा दिया था।

इस बीच लड़के के पिता ने कहा कि मेरे बेटे की कोई दुश्मनी नहीं थी और मैं इस दुखद घटना के बाद पूरी तरह सदमे की स्थिति में हूं।

नरेला इलाके में स्पेशल स्टाफ ने मुठभेड़ के बाद एक आरोपी को किया गिरफ्तार

0

नीति सैन। आउटर नॉर्थ जिला के स्पेशल स्टाफ की टीम ने एनआईए थाना क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद एक खूंखार अपराधी को गिरफ्तार किया हैं इंस्पेक्टर सचिन मान की टीम को जानकारी मिली थी जिसके बाद टीम ने ट्रेप लगाया और मुठभेड़ के दौरान विक्रांत नाम का एक पुलिसकर्मी भी घायल हुए है। साथ ही अनिल नाम का एक पुलिसकर्मी बुलेटप्रेफ जैकेट के कारण बाल बाल बच गया। वही बदमाश के पैर में भी गोली लगी है। पकड़े गए बदमाश ने जहांगीर पूरी थाना के बीट कांस्टेबल के साथ मारपीट कर उससे लूटपाट की और पिस्टल तान दी। उसके बाद एक प्रॉपर्टी डीलर के ऑफिस पर गालियां चलाई।

आउटर नॉर्थ जिले के डीसीपी बिजेंद्र कुमार यादव ने जानकारी देते हुए बताया की सिपाही अमरदीप इलाके में अपनी ड्यूटी कर रहा था जहां, दो शक्स रास्ते में गाली गलोच करते जा रहे थे।सिपाही अमरदीप ने उनको रोका और अपना परिचय देते हुए गाली न देने को कहा। इतने में ही उनमें से एक शक्स ने अपने पास से एक पिस्टल निकाली और उसकी छाती पर तान कर ट्रिगर दबा दिया लेकिन गोली नहीं चल पाई। इतना ही नहीं सिपाही अमरदीप के साथ लात घुसो से मारपीट भी की और उसका पर्स भी लूट लिया जिसमें से एक का नाम प्रमोद उर्फ मुल्ला था सिपाही अमरदीप को वही जख्मी हालत में छोड़ गए। कुछ ही देर बाद उन्होंने एक प्रॉपर्टी डीलर के ऑफिस के बाहर गोलियां दागी और फिर वहां से भाग गए। अमरदीप की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया ।

आज बाहरी उत्तरी जिले के स्पेशल स्टाफ ने तकनीकी मदद और गुप्त सूचना के आधार पर प्रमोद उर्फ मुल्ला को पकड़ने के लिए जाल बिछाया। जहां थाना नरेला इंडस्ट्रियल एरिया क्षेत्र के इलाके में प्रमोद के आने की सूचना मिली। जब प्रमोद यादव उर्फ मुल्ला को रोकने के लिए पुलिस ने इशारा किया तो उसने बेधड़क पुलिस पर फायर करना शुरू कर दिया। पुलिस ने अपने बचाव में भी फायर किया और प्रमोद के पैर में गोली लगी और उसे बमुश्किल काबू किया गया। प्रमोद उर्फ मुल्ला स्वरूप नगर का रहने वाला है और पहले भी कई लूट हत्या की कोशिश और अन्य संगीन मामलों में संलिप्त रहा है। मुठभेड़ के दौरान प्रमोद से एक पिस्टल 4 राउंड 2 फायर किए हुए 1 पिस्टल में फंसा हुआ और 1 जिंदा कारतूस और एक चोरी की बाईक बरामद की गई हैं। इस मुठभेड़ में एक सिपाही को भी चोटे आई है। जांच जारी है

नरेला थाना पुलिस ने चंद घंटों में गिरफ्तार किए स्नैचर

0

निती सैन। नरेला थाना पुलिस ने तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया है। जो एक राहगीर से स्कूटी की स्नैचिंग की वारदात को अंजाम देकर हरियाणा फरार हो जाना चाहते थे। लेकिन जैसे इस मामले की जानकारी दिल्ली पुलिस को मिली। जानकारी मिलने के बाद एसीपी नरेला रिधिमा सेठ व एसएचओ नरेला महेश नारायण ने तमाम स्टॉप को अलर्ट कर दिया।

जिसके बाद आरोपियों को पकड़ने के लिए दिल्ली पुलिस अलर्ट हो गई वहीं सफियाबाद रोड नेशनल स्कूल के पास स्नैचिंग करने वाले तीनों आरोपियों को नरेला थाना पुलिस की टीम ने गिरफ्तार कर लिया। स्नैचिंग की वारदात के बाद कई टीमे इलाके में तैनात की गई इसमें से एक टीम को कामयाबी हासिल हु तैनात हेड कॉन्स्टेबल निरज, कॉन्स्टेबल मनोज व कॉन्स्टेबल विकास की टीम ने आरोपियों को सफियाबाद रोड से ही गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी सफियाबाद बॉर्डर क्रॉस करने के बाद हरियाणा पहुंचने की फिराक में थे। लेकिन दिल्ली पुलिस की मुस्तैदी के चलते तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान (1) हिमांशु उर्फ रोहित (2) हेमंत उर्फ रोहित (3) अमन के रूप में हुई है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक आरोपियों पर पहले भी अपराधिक मामले दर्ज है। थाना पुलिस गिरफ्तार तीनों आरोपियों से पूछताछ में जुटी है।

सतना में सड़क हादसे में एक परिवार के 4 सदस्यों की मौत

0

असल न्यूज़: मध्य प्रदेश के सतना जिले में कार और ट्रक की टक्कर में एक ही परिवार के चार सदस्यों की मौत हेा गई है। मरने वालों में पति-पत्नी व देा बच्चे शामिल है। इस हादसे पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी गहरा दुख व्यक्त किया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, मैहर के कारोबारी सत्यप्रकाश उपाध्याय अपनी पत्नी मोनिका और देा बच्चों के साथ घूमने और एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने सतना आए थे। रात को उन्होंने एक होटल में खाना खाया और इस मौके की तस्वीर भी सोशल मीडिया पर साझा की। उसके बाद वे मैहर की तरफ बढ़े, मगर अपने घर नहीं पहुॅच पाए।और उनकी कार की ट्रक से टक्कर हो गई।

पुलिस के अनुसार इस हादसे में सत्यप्रकाश, उनकी पत्नी मोनिका, बेटी इशानी व बेटा स्नेह की मौत हुई है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए कहा, सतना जिले में सतना-मैहर मार्ग पर सड़क हादसे की खबर पीड़ाजनक है। हादसे में मृतकों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। ईश्वर से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को शांति प्रदान करें। पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं।

22,851FansLike
3,049FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Recent Posts