Saturday, July 20, 2024
Google search engine
Homeबड़ी खबरअयोध्या में पहली बारिश ने खोली विकास की पोल, रामपथ पर 15...

अयोध्या में पहली बारिश ने खोली विकास की पोल, रामपथ पर 15 से अधिक गड्‌ढे, रेलवे जंक्शन की दिवार भी ढही.

असल न्यूज़: रामनगरी अयोध्या में रविवार को हुई हल्की बारिश ने शहर के विकास के दावों की पोल खोल कर रख दी है। अयोध्या के विकास को मॉडल बनाने के लिए सआदतगंज से लेकर नयाघाट के बीच करोड़ों की लागत से बना रामपथ जगह-जगह पर धंस गया है और इसके किनारे जलभराव भी हो गया है। इतना ही नहीं पुनर्विकसित अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन की चहारदीवारी भी पहली बरसात में ढह गई। जिसके बाद यहां की तस्वीर सोशल मीडिया पर डालकर लोग शासन और प्रशासन की जमकर खिंचाई कर रहे हैं। यहां के परेशान लोगों का कहना है कि जब प्री-मानसून बरसात में यह हाल है, तब मानसून की मूसलधार बारिश के बाद अयोध्या का क्या हाल होगा।

देखें वीडियो:-

बता दें कि प्राण प्रतिष्ठा के दौरान आनन-फानन में बने रामपथ पर दिन रात निर्माण का कार्य चलता रहता है। रामपथ की बनावट पर लोगों ने पहले ही कई बार सवाल उठाए थे और बरसात मे में इससे होने वाली मुसीबत की ओर ध्यानाकर्षण भी कराया था, लेकिन तब अति आत्मविश्वास एवं निर्माण की जल्दी में लोक निर्माण विभाग एवं प्रशासन ने ध्यान नहीं दिया था। इस जल्दबाजी का दुष्परिणाम पहली बरसात में ही जगह-जगह धंसे रामपथ और जलभराव के रूप में सामने आ गया है।

पीएम मोदी ने किया था दिसंबर में उद्घाटन

यह भी बता दें की बरसात का पानी रामपथ के किनारे बने नाले में न जाकर घरों व दुकानों में भर रहा है। गोदनहर का पुरवा के पास सर्विस लेन क्षतिग्रस्त हो गई और राठहवेली में इमामबाड़ा के पास रोड धंस गई है।

वहीं राम मंदिर के उद्घाटन की जल्दबाजी के चलता यहां विभाग द्वारा कई अनियमिता बरती गई जिसका खामियाजा स्थानीय लोगों को ता उम्र भुगता पड़ेगा और पहली ही बरसात ने अधिकारीयों की लापरवाही और धटिया निर्माण सामग्री की पोल खोलकर रख दी है

पहली ही बारिश में पानी चूने लगा’, राम मंदिर को लेकर मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास का बड़ा दावा

पहली ही बारिश में पानी चूने लगा', राम मंदिर को लेकर मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास का बड़ा दावा
पहली ही बारिश में पानी चूने लगा’, राम मंदिर को लेकर मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास का बड़ा दावा

 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments