Monday, April 15, 2024
Google search engine
Homeधर्मइस मंदिर में 2 लाख से ज्यादा रुपये में नीलाम हुए 9...

इस मंदिर में 2 लाख से ज्यादा रुपये में नीलाम हुए 9 नींबू.

असल न्यूज़: बाजार में 100 से 120 रुपये प्रति किलो बिकने वाले नींबू हाल ही में एक नीलामी के दौरान लाखों रुपये में बेचे गए।
तमिलनाडु के ओट्टानंडल गांव में स्थित प्रसिद्ध रथिनावेलपांडिन मुरुगन मंदिर में आयोजित एक उत्सव के अनुष्ठान के तौर पर 9 नींबू की नीलामी की गई।

इस नीलामी में ज्यादातर शादीशुदा जोड़े शामिल हुए क्योंकि इसके पीछे एक अनोखी मान्यता है।
आइए इस मामले के बारे में विस्तार से जानते हैं।

नीलामी
मंदिर में नींबू नीलाम करने की है परंपरा
एक पहाड़ी के ऊपर स्थित रथिनावेलपांडिन मुरुगन मंदिर भगवान मुरुगन को समर्पित है और इसमें हर साल पंगुनी उथिरम नामक उत्सव मनाया जाता है।

यह उत्सव इस बार 15 मार्च से 23 मार्च तक जारी रहा। उस दौरान हर दिन विभिन्न प्रार्थनाओं और आशीर्वाद के प्रतीक के तौर पर भगवान मुरुगन की प्रतिमा के साथ जुड़े भाले पर 9 नींबू चढ़ाए गए।
9 दिनों तक इन 9 नींबू की पूजा करने के बाद इन्हें नीलाम किया गया।

बोलियां
100 रुपये से शुरू हुई थी नींबू की बोली
विभिन्न अनुष्ठानों के बाद मंदिर के पुजारी ने नींबू की नीलामी शुरू की ।
नींबू की बोली 100 रुपये से शुरू हुई और धीरे-धीरे इनकी कीमत बढ़ती चली गई। एक नींबू 50, 500 रुपये में नीलाम हुआ, जबकि 9 नींबू 2,36,100 रुपये में बेचे गए।
इन नींबू के लिए बोली लगाने वालों के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा हुई क्योंकि ऐसी मान्यता है कि इनमें से एक नींबू की पूजा करने पर संतान प्राप्ति का आशीर्वाद मिलता है।
आपने 50% पढ़ लिया है

खरीद
किसने खरीदें ये नींबू?
उत्सव की नीलामी में नीलाम किए नींबू को 50,500 रुपये में अरुलदास नामक व्यक्ति और उनकी पत्नी कनिमोझी ने खरीदा है क्योंकि वे गर्भधारण करने में असमर्थ थे।
इसके अलावा उत्सव के दूसरे और तीसरे दिन पूजे गए नींबू को एक अन्य जोड़े ने 26,500 और 42,100 रुपये में खरीदा।
नींबू को नीलाम करने की परंपरा हर साल इसी तरह से मनाई जाती है और लोगों को विश्वास है कि इनसे जुड़ी मान्यता काम करती है।

अन्य नीलामी
285 साल पुराने नींबू की करीब 1.5 लाख रुपये में हुई नीलामी
इसी साल जनवरी के दौरान इंग्लैंड में 285 साल पुराना सूखा नींबू 1 लाख रुपये से अधिक में नीलाम हुआ।
यह नीलामी ब्रेटेल्स नीलामीघर द्वारा की गई और नींबू के छिलके पर, ‘मिस्टर पी लू फ्रैंचिनी द्वारा 4 नवंबर, 1739 को मिस ई बैक्सटर को दिया गया’ लिखा था।

नीलामीकर्ता डेविड ब्रेटेल ने कहा, “हमें अनुमान था कि यह नींबू 4,200-6,300 रुपये में बिकेगा, लेकिन इसकी बिक्री 1,400 पाउंड यानी 1.47 लाख रुपये में हुई।”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments